1. Home
  2. हिंदी
  3. चुनाव
  4. उत्तराखंड चुनाव : कांग्रेस से निष्कासित पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने थामा भाजपा का दामन
उत्तराखंड चुनाव : कांग्रेस से निष्कासित पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने थामा भाजपा का दामन

उत्तराखंड चुनाव : कांग्रेस से निष्कासित पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने थामा भाजपा का दामन

0

देहरादून, 27 जनवरी। विधानसभा चुनाव के पहले लगभग सभी चुनावी राज्यों में पाला बदल का खेल जारी है। इसी क्रम में  उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय को पार्टी ने छह वर्षों के लिए निष्कासित किया और उन्हें समय गंवाए बिना गुरुवार को भाजपा का दामन थाम लिया।

आपको कांग्रेस से पूछना चाहिए कि ऐसी स्थिति क्यों आई है

भाजपा में शामिल होने के बाद किशोर उपाध्याय ने कहा, ‘मैं उत्तराखंड को आगे ले जाने की भावना के साथ भाजपा में शामिल हुआ हूं। आपको कांग्रेस से पूछना चाहिए कि ऐसी स्थिति क्यों आई है।’

कांग्रेस ने छह वर्षों के लिए पार्टी से किया था निष्कासित

इससे पहले कांग्रेस के उत्तराखंड प्रभारी देवेंद्र यादव ने ट्वीट कर जानकारी दी थी कि उत्तराखंड इकाई के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय को पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में गुरुवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया गया है।

टिहरी से चुनावी समर में उतर सकते हैं उपाध्याय

भाजपा के चुनाव प्रभारी और केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी तथा अन्य वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में उपाध्याय ने यहां पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। भाजपा ने अभी तक टिहरी विधानसभा सीट पर प्रत्याशी की घोषणा नहीं की है और अटकलें लगाई जा रही हैं कि सत्तारूढ़ पार्टी उपाध्याय को टिहरी से चुनावी समर में उतार सकती है।

बीते दिनों कांग्रेस ने सभी पदों से हटा दिया था

हाल ही में किशोर को पार्टी के सभी पदों से हटा दिया गया था। उपाध्याय कुछ सप्ताह पहले तक उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए बनी कांग्रेस समन्वय समिति के प्रमुख की भूमिका निभा रहे थे और वह राज्य कांग्रेस कोर कमेटी तथा उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य थे।

गौरतलब है कि उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए राज्य की सभी 70 सीटों पर 14 फरवरी को मतदान होगा जबकि मतगणना 10 मार्च को होगी।

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published.