1. Home
  2. हिंदी
  3. राष्ट्रीय
  4. जम्मू कश्मीर : आईटीबीपी के जवानों को ले जा रही बस खाई में गिरी, 6 जवान शहीद, कई गंभीर रूप से घायल
जम्मू कश्मीर : आईटीबीपी के जवानों को ले जा रही बस खाई में गिरी, 6 जवान शहीद, कई गंभीर रूप से घायल

जम्मू कश्मीर : आईटीबीपी के जवानों को ले जा रही बस खाई में गिरी, 6 जवान शहीद, कई गंभीर रूप से घायल

0

जम्मू, 16 अगस्त। जम्मू-कश्मीर में मंगलवार को बड़ा हादसा हुआ, जब भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के 37 और जम्मू-कश्मीर पुलिस के दो जवानों सहित 39 लोगों को ले जा रही एक सिविल बस ब्रेक फेल होने के बाद अनियंत्रित होकर नदी के किनारे गिर गई। इस हादसे में छह जवानों के शहीद होने की खबर है जबकि 30 घायल हुए हैं। इनमें कई जवानों की हालत गंभीर हैं। फिलहाल राहत और बचाव कार्य जारी है। बचाव कार्य में 19 एम्बुलेंस लगाई गई हैं।

अमरनाथ यात्रा की समाप्ति पर चंदनवाड़ी से पहलगाम लौट रहे थे जवान

सैनिक चंदनवाड़ी से पहलगाम की ओर जा रहे थे। चंदनवाड़ी से पहलगाम 16 किलोमीटर दूर है। चंदनवाड़ी से ही अमरनाथ यात्रा की शुरूआत होती है। इन जवानों को चंदनवाड़ी में अमरनाथ यात्रा के लिए तैनात किया गया था। अमरनाथ यात्रा समाप्त होने के बाद ये जवान अपने आधार शिविर की ओर लौट रहे थे, जब यह हादसा हुआ। जिला प्रशासन आला अधिकारी सदल बल मौके पर पहुंच गए हैं।

अनंतनाग में मेडिकल टीम हाई अलर्ट पर

अनंतनाग में मेडिकल टीम को हाई अलर्ट पर रखा गया है और गंभीर रूप से घायल जवानों को अनंननाग जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है। हादसे में तीन जवान मामूली रूप से घायल हैं, जिनका इलाज पहलगाम में ही चल रहा है। कुछ बेहद गंभीर घायलों को हेलीकॉप्टर से श्रीनगर भी भेजा गया है।

राहत और बचाव टीम ने ज्यादातर घायलों को निकाल लिया है और अस्पताल भेज दिया गया। बचाव टीम अब भी आस-पास के नदी नालों की तालाश कर रही है। जिस रास्ते से बस लौट रही थी, वह बेहद खतरनाक रास्ता है। संकरे रास्तों के नीचे गहरी खाई है। यहीं बस अनियंत्रित होकर गिर गई। हादसे का शिकार हुई बस के पीछे चल रही एक अन्य बस में भी सेना और आईटीबीपी के जवान यात्रा कर रहे थे। बस के खाई में गिरते ही पीछे की बस में सवार जवानों ने तुरंत बचाव कार्य शुरू कर दिया।

इधर आईटीबीपी के पीआरओ ने बताया, ‘हमारे छह जवानों की जान गई है जबकि 30 घायल हुए हैं। हम घायलों को हर संभव इलाज मुहैया करा रहे हैं। आईटीबीपी मुख्यालय स्थिति पर नजर रखे हुए है। जवान अमरनाथ यात्रा ड्यूटी से लौट रहे थे। शहीद जवानों के परिवारों को हरसंभव मदद दी जाएगी।’

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published.