1. Home
  2. हिंदी
  3. चुनाव
  4. यूपी चुनाव : मैनपुरी की करहल विधानसभा सीट से जोर आजमा सकते हैं सपा प्रमुख अखिलेश यादव
यूपी चुनाव : मैनपुरी की करहल विधानसभा सीट से जोर आजमा सकते हैं सपा प्रमुख अखिलेश यादव

यूपी चुनाव : मैनपुरी की करहल विधानसभा सीट से जोर आजमा सकते हैं सपा प्रमुख अखिलेश यादव

0

लखनऊ, 20 जनवरी। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मैनपुरी संसदीय क्षेत्र की करहल विधानसभा सीट से मैदान में उतर सकते हैं। सपा के विश्वस्त सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी है। हालांकि अभी इस आशय की पार्टी की ओर से अधिकृत पुष्टि नहीं हुई है।

आजमगढ़ लोकसभा सीट से सांसद हैं अखिलेश

अखिलेश यादव इस समय आजमगढ़ लोकसभा सीट से सांसद हैं और 24 घंटे पूर्व ही उन्होंने कहा था कि आजमगढ़ की जनता की अनुमति मिलने पर ही विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला करेंगे। इसके पूर्व पश्चिमी यूपी में संभल जिले के गुन्नौर निर्वाचन क्षेत्र से भी अखिलेश के चुनाव लड़ने के कयास लगाए जा रहे थे, जहां समाजवादी पार्टी हमेशा से वर्चस्व रहा है।

पिता मुलायम सिंह भी करहल से ही लड़े थे पहला चुनाव

दिलचस्प यह है कि अखिलेश के पिता और सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने भी करहल विधानसभा सीट से ही पहला चुनाव लड़ा था और जीत हासिल कर विधानसभा पहुंचे थे। यही नहीं वरन मुलायम ने करहल के जैन इंटर कॉलेज से ही शिक्षा भी ग्रहण की थी और यहां पर शिक्षक भी रहे। करहल मुलायम सिंह के गांव सैफई से सिर्फ चार किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

मैनपुरी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के पांच विधानसभा क्षेत्रों में से एक करहल सीट इस समय सपा के पास है। वर्ष 2017 में पार्टी ने सोवरन सिंह यादव उतारा था, जिन्होंने भाजपा के रमा शाक्य को 40 हजार से अधिक वोटों से हराया था।

अखिलेश का यह पहला विधानसभा चुनाव होगा

फिलहाल यदि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के नाम की पुष्टि हुई तो मौजूदा सीएम योगी आदित्यनाथ की तरह उनका भी यह पहला विधानसभा चुनाव होगा। वर्ष 2012 में जब अखिलेश उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने विधान परिषद के रास्ते सदन की सदस्यता हासिल की थी। पांच बार के पूर्व सांसद योगी आदित्यनाथ भी पहली बार गोरखपुर से भाजपा के टिकट पर विधानसभा चुनाव में ताल ठोकने की तैयारी कर रहे हैं।

मैनपुरी जिला संगठन ने सपा अध्यक्ष के पास भेजा है प्रस्ताव

प्राप्त जानकारी के अनुसार सपा के मैनपुरी जिला संगठन ने पार्टी अध्यक्ष को इस आशय का एक प्रस्ताव भेजा है। इसी क्रम में सपा का एक प्रतिनिधिमंडल लखनऊ में गुरुवार को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मिला। प्रतिनिधिमंडल ने मांग की है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष करहल सीट से ही कार्यकर्ताओं की भावनाओं के अनुरूप चुनाव लड़ें, जिसे पार्टी ने गंभीरता से लिया।

सपा एमएलसी राज्यपाल कश्यप ने कहा कि अखिलेश यादव यूपी की किसी भी सीट से चुनाव लड़ेंगे तो उनकी जीत तय है। इस बार जो माहौल बना है, उसे देखते हुए समाजवादी पार्टी की सरकार की प्रचंड बहुमत से सत्ता में आ रही है। करहल सीट से समाजवादी पार्टी ने तेज प्रताप यादव को प्रभारी बनाया है। यदुवंशियों की लगभग डेढ़ लाख आबादी वाली करहल विधानसभा सीट पर सपा का सात बार कब्जा रहा है।

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published.