1. Home
  2. हिंदी
  3. खेल
  4. महिला जूनियर हॉकी विश्व कप : भारत की जबर्दस्त शुरुआत, कनाडा पर 12-0 की जीत में मुमताज ने किए चार गोल
महिला जूनियर हॉकी विश्व कप : भारत की जबर्दस्त शुरुआत, कनाडा पर 12-0 की जीत में मुमताज ने किए चार गोल

महिला जूनियर हॉकी विश्व कप : भारत की जबर्दस्त शुरुआत, कनाडा पर 12-0 की जीत में मुमताज ने किए चार गोल

0

सैंटियागो (चिली), 30 नवम्बर। भारतीय महिलाओं ने यहां 10वें एफआईएच महिला जूनियर हॉकी विश्व कप में अपने अभियान की जबर्दस्त शुरुआत की और ग्रुप सी के अपने पहले मैच में कनाडा को 12-0 से रौंद कर रख दिया।

भारत मध्यांतर बाद कुल 8 गोल ठोके

इस एकतरफा मैच में डिफेंडर प्रीति की अगुआई में उतरी भारतीय टीम ने मध्यांतर तक 4-0 से अग्रता ले रखी थी। भारत के लिए मुमताज खान ने चार गोल (26वां, 41वां, 54वां व 60वां मिनट) किए जबकि अन्नू (चौथा, छठा व 39वां मिनट) और दीपिका सोरेंग (34वां, 50वां व 54वां मिनट) ने तीन-तीन गोल किये। डिप्पी मोनिका टोप्पो ने 21वें मिनट में और नीलम ने 45वें मिनट में गोल दागे।

भारत ने आक्रामक शुरुआत की और जल्दी ही अन्नू ने पेनाल्टी कॉर्नर पर दो गोल दागकर बढ़त दिला दी। दूसरे क्वार्टर में भी भारत का दबदबा रहा। डिप्पी और मुमताज ने इसका फायदा उठाकर एक एक फील्ड गोल दाग दिया। इस बीच कनाडा को मिला पेनाल्टी कॉर्नर बेकार गया। हाफटाइम तक भारत के पास चार गोल की बढ़त थी।

दूसरे हाफ में दीपिका ने पेनाल्टी कॉर्नर तब्दील किया, जिसके बाद अन्नू ने भी हैट्रिक पूरी की। मुमताज ने अपना दूसरा गोल भी दागा। वहीं नीलम ने पेनाल्टी को गोल में बदलकर तीसरे क्वार्टर की समाप्ति पर भारत की बढ़त 8-0 की कर दी। आखिरी क्वार्टर में दीपिका और मुमताज ने दो-दो गोल दागे।

भारत की अगली टक्कर शुक्रवार को जर्मनी से होगी

चार टीमों के ग्रुप में भारत का अगला मैच शुक्रवार को पूर्व चैम्पियन जर्मनी से होगा और दो दिसम्बर की उसकी मुलाकात बेल्जियम से होगी। मौजूदा चैम्पियन नीदरलैंड्स को ऑस्ट्रेलिया, चिली व दक्षिण अफ्रीका के साथ ग्रुप ए में रखा गया है। दो बार के पूर्व चैम्पियन अर्जेंटीना, दक्षिण कोरिया, स्पेन व जिम्बाब्वे को ग्रुप बी में जगह दी गई है जबकि ग्रुप डी में इंग्लैंड, जापान, न्यूजीलैंड व अमेरिका हैं।

भारतीय टीम 2013 में जीत चुकी है कांस्य पदक

कुल 12 दिनों तक चलने वाली प्रतियोगिता में सभी चार ग्रुपों की शीर्ष दो-दो टीमें छह दिसम्बर को क्वार्टर फाइनल खेलेंगी। नौ दिसम्बर को सेमीफाइनल होंगे और 10 दिसम्बर को फाइनल खेला जाएगा। इस प्रतियोगिता में पांच बार भाग ले चुके भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2013 में रहा है, जब उसने कांस्य पदक जीता था। पिछले वर्ष दक्षिण अफ्रीका में भारत को इंग्लैंड के खिलाफ कांस्य पदक का मुकाबला शूटआउट में गंवाना पड़ा था।

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published.