1. Home
  2. हिंदी
  3. राष्ट्रीय
  4. हाथरस मामले पर बोलीं मायावती- बाबा भोले समेत अन्य बाबाओं के खिलाफ होनी चाहिए कार्रवाई, सरकार को दिया यह सुझाव
हाथरस मामले पर बोलीं मायावती- बाबा भोले समेत अन्य बाबाओं के खिलाफ होनी चाहिए कार्रवाई, सरकार को दिया यह सुझाव

हाथरस मामले पर बोलीं मायावती- बाबा भोले समेत अन्य बाबाओं के खिलाफ होनी चाहिए कार्रवाई, सरकार को दिया यह सुझाव

0
Social Share

लखनऊ, 6 जुलाई। हाथरस में एक सत्संग के दौरान हुई भगदड़ के बाद 121 लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले की जांच एसआईटी को दे दी गई है। यूपी सरकार द्वारा मुआवजे का ऐलान कर दिया गया है और आरोपियों की गिरफ्तारियां भी शुरू हो चुकी है। इस बीच बसपा सुप्रीमों मायावती ने बाबा भोले को लेकर सोशल मीडिया साइट एक्स पर बयान दिया है। उन्होंने एक्स पर लिखा, “देश में गरीबों, दलितों व पीड़ितों आदि को अपनी गरीबी व अन्य सभी दुखों को दूर करने के लिए हाथरस के भोले बाबा जैसे अनेकों और बाबाओं के अंधविश्वास व पाखंडवाद के बहकावे में आकर अपने दुख व पीड़ा को और नहीं बढ़ाना चाहिए। यही सलाह रहेगी।”

मायावती ने बाबा भोले को लेकर दिया बयान

मायावती ने आगे लिखा, “बल्कि बाबा साहेब डा. भीमराव अम्बेडकर के बताए हुए रास्तों पर चलकर इन्हें सत्ता खुद अपने हाथों में लेकर अपनी तकदीर खुद बदलनी होगी अर्थात इन्हें अपनी पार्टी बीएसपी से ही जुड़ना होगा, तभी ये लोग हाथरस जैसे काण्डों से बच सकते हैं जिसमें 121 लोगों की हुई मृत्यु अति-चिन्ताजनक। हाथरस काण्ड में, बाबा भोले सहित अन्य जो भी दोषी हैं, उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। ऐसे अन्य और बाबाओं के विरुद्ध भी कार्रवाई होनी जरूरी। इस मामले में सरकार को अपने राजनैतिक स्वार्थ में ढ़ीला नहीं पड़ना चाहिए ताकि आगे लोगों को अपनी जान ना गवांनी पडे़।”

पुलिस ने देव प्रकाश मधुकर को किया गिरफ्तार

बता दें कि भगदड़ मामले में मुख्य आरोपी और नारायण साकार हरि उर्फ भोले बाबा के करीबी देव प्रकाश मधुकर को गिरफ्तार कर लिया गया है। यूपी एसटीएफ की टीम ने मधुकर को दिल्ली से गिरफ्तार किया है। पुलिस शनिवार को उसे कोर्ट में पेश करने वाली है। भगदड़ की घटना के मुख्य आरोपी देवप्रकाश मधुकर का सुराग देने वाले को पुलिस ने एक लाख रुपये इनाम देने का ऐलान किया था। बता दें कि इस घटना के बाद से ही मधुकर फरार हो गया था। आरोपी की तलाश में यूपी पुलिस राज्य के साथ-साथ पड़ोसी राजस्थान, दिल्ली और हरियाणा में भी तलाश शुरू कर दी थी।

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published.

Join our WhatsApp Channel

And stay informed with the latest news and updates.

Join Now
revoi whats app qr code