1. Home
  2. हिंदी
  3. राष्ट्रीय
  4. चीनी सेना ने अरुणाचल प्रदेश से अगवा किशोर मिराम को भारतीय सेना को सौंपा
चीनी सेना ने अरुणाचल प्रदेश से अगवा किशोर मिराम को भारतीय सेना को सौंपा

चीनी सेना ने अरुणाचल प्रदेश से अगवा किशोर मिराम को भारतीय सेना को सौंपा

0

नई दिल्ली, 27 जनवरी। अरुणाचल प्रदेश में चीन सीमा से अगवा हुआ 17 वर्षीय किशोर मिराम तारोन को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने भारतीय फौज को सौंप दिया है। केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने गुरुवार को एक ट्वीट में यह जानकारी दी।

रिजिजू ने ट्वीट में कहा, ‘चीनी पीएलए ने आज अरुणाचल प्रदेश के वाचा-दमई इंटरेक्शन पॉइंट पर अरुणाचल प्रदेश के मिराम तारोन को भारतीय सेना को सौंप दिया। मेडिकल जांच सहित उचित प्रक्रियाओं का पालन किया जा रहा है।’ उन्होंने कहा,  ‘मैं पीएलए के साथ मामले को सावधानीपूर्वक आगे बढ़ाने और हमारे युवा लड़के को सुरक्षित घर वापस लाने के लिए हमारी गर्वित भारतीय सेना को धन्यवाद देता हूं।’

वहीं अरुणाचल प्रदेश के एमएलए निनॉन इरिंग ने भी मिरान की सकुशल वापसी पर जानकारी देते हुए बताया कि चीन की सेना ने भारतीय फौज के सामने मिराम को वापस किया। मिराम बीते 18 जनवरी को लापता हुआ था। ज्ञातव्य है कि भारतीय सेना पिछले नौ दिनों से भारत-चीन सीमा पर मिराम की तलाश कर रही थी और उसने इस बाबत पीएलए से संपर्क भी किया था।

चीनी सेना ने स्वीकार किया था कि मिराम उसके पास सुरक्षित है

वहीं जब भारत में बवाल बढ़ा तो चीनी सेना ने स्वीकार किया था कि मिराम उनके पास है और सुरक्षित है। पीएलए ने भारतीय फौज के साथ जानकारी साझा की थी भारत वापस भेजने के लिए जरूरी प्रक्रियाओं का पालन किया जा रहा है और उसे जल्द ही भारत को सौंप दिया जाएगा। मिराम को लेकर दोनों के देशों के मध्य कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद आज चीन ने उसे भारतीय फौज को सौंप दिया है।

भारतीय सेना ने अरुणाचल प्रदेश से अगवा किशोर की वापसी के लिए पीएलए से किया संपर्क

बीते कई दिनों अरुणाचल प्रदेश के भारत-चीन सीमा क्षेत्र में मिराम तारोन की तलाश जारी थी। कथित तौर पर कहा जा रहा था कि मिराम को सीमा क्षेत्र से चीनी सेना ने बंदूक के बल पर अगवा कर लिया है। लेकिन दूसरी ओर चीनी सेना ने इस तरह की किसी भी घटना से इनकार किया था और मिराम को तलाशने में भारतीय सेना के साथ सहयोग की बात कही थी।

देश को मिराम के लापता होने की जानकारी तब हुई, जब बीते 19 जनवरी को अरुणाचल प्रदेश से भाजपा सांसद तपीर गाओ ने जानकारी देते हुए उसकी तलाश के लिए केंद्र सरकार से आग्रह किया। गाओ ने इस मामले में सीधा आरोप लगाते हुए कहा था कि चीनी सेना पीएलए ने 17 साल के मिराम तारोन को भारतीय सीमा क्षेत्र के भीतर के घुसकर सिआंग जिले से अगवा किया था।

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published.