1. Home
  2. हिंदी
  3. चुनाव
  4. यूपी चुनाव : भाजपा ने जारी की 91 उम्मीदवारों की तीसरी सूची, सिद्धार्थ नाथ सिंह सहित कई दिग्गज शामिल
यूपी चुनाव : भाजपा ने जारी की 91 उम्मीदवारों की तीसरी सूची, सिद्धार्थ नाथ सिंह सहित कई दिग्गज शामिल

यूपी चुनाव : भाजपा ने जारी की 91 उम्मीदवारों की तीसरी सूची, सिद्धार्थ नाथ सिंह सहित कई दिग्गज शामिल

0

लखनऊ, 28 जनवरी। भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए शुक्रवार को अपने और 91 उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी कर दी। इसके साथ ही भाजपा ने 403 सदस्यीय विधानसभा चुनाव के लिए अब तक 294 उम्मीदवारों के नामों का एलान कर दिया है। राज्य में भाजपा दो अन्य पार्टियों – अपना दल (एस) और निषाद पार्टी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रही है। इन दोनों के हिस्से कुल मिलाकर 35 से 40 सीटें जानी हैं।

सीएम योगी के सूचना सलाहकार शलभमणि त्रिपाठी को देवरिया से टिकट

भाजपा की ओर से जारी आधिकारिक सूची में राज्य सरकार के मंत्रियों – सिद्धार्थ नाथ सिंह, उपेंद्र तिवारी, नंदकुमार गुप्ता ‘नंदी’ और सूर्य प्रताप शाही सहित कई दिग्गज शामिल हैं। इनमें सिद्धार्थ नाथ इलाहाबाद पश्चिम, तिवारी बलिया जिले के फेफना, नंदी इलाहाबाद दक्षिण और शाही पत्थरदेवा से चुनावी मैदान में उतरेंगे जबकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सूचना सलाहकार शलभमणि त्रिपाठी को पार्टी ने देवरिया से उम्मीदवार बनाया है।

कुंडा में राजा भइया को चुनौती देंगे सिंधुजा मिश्र

पिछले दिनों भाजपा में शामिल हुए समाजवादी पार्टी के विधायक सुभाष राय को आम्‍बेडकर नगर जिले की जलालपुर सीट से टिकट दिया गया है। इसी प्रकार कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए राकेश सचान को भोगनीपुर से उम्मीदवार बनाया गया है। प्रतापगढ़ की कुंडा से सिंधुजा मिश्र को प्रत्याशी बनाया गया है। सिंधुजा निर्दलीय दबंग विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया को चुनौती देंगे।

लखनऊ सहित कई सीटों पर अभी संशय बरकरार

फिलहाल भारतीय जनता पार्टी की तीसरी सूची में भी लखनऊ के प्रत्याशियों के नाम नहीं है। अब भी लखनऊ की कई सीटों पर पेंच हैं। इसके साथ ही उन्नाव में विधानसभा अध्यक्ष पंडित हृदयनारायण दीक्षित की सीट पर भी संशय बरकरार है। देखा जाए तो प्रदेश के कई जिलों में लगभग एक-दो सीटों पर सस्पेंस बना है। इनमें मऊ व आजमगढ़ से लेकर बलिया तक कई सीटें हैं।

LEAVE YOUR COMMENT

Your email address will not be published.